DESIGNATION Means in Hindi with Simple Uses - डेसिग्नेशन हिंदी मीनिंग

इसके दोनों रूपों संक्षेप और विस्तृत को लेकर बहुत कुछ जानकारी शेयर की गयी है तो अब ज्यादा बाते ना करके Means of Designation in Hindi को जानने के लिए इसे अंत तक पूरा पढ़े -

DESIGNATION Means in Hindi with Simple Uses :


Meanings of "Designation" in Hindi -

Noun 
1. उपाधि
2. ओहदा 
3. चिह्न
4. नाम
5. नियुक्ति
6. पद
7. लक्ष्य
8. संकेत
9. औहदा.

हां तो दोस्तों अब आपको ऊपर डेसिग्नेशन के हिंदी मीनिंग का पता चल ही गया होगा. क्या अब आप इन प्रत्येक मतलवो को विस्तार से समझकर इनके उपयोग और सोसाइटी के साथ हमारी फैमिली पर क्या इफ़ेक्ट पड़ता है. यदि जानना चाहते है तव तो आपको इस पोस्ट को एक बार पूरा पढ़ ही लेना चाहिए. चलिए आगे बड़ते है -


What is the Means of Designation in Hindi :


इन सभी मतलवो का वर्णित रूप -

- पदवी मतलव कोई स्थान या पद जो कि अपने आप में एक आभासी चीज है. वस इसे समझने मात्र के लिए इसे पदों और लेवलो में परिवर्तित कर दिया. पद की कोई निश्चित परिभाषा नही है. यह ऊँचा पद और निचा पद केवल इसको आसानी से परिभाषित करता है और हम इसे एक वास्तविक रूप में देख पाते है. 

- संकेत यह शब्द एक प्रकार से दिशा निर्देश या कहे कि यह किसी चीज, वस्तु या स्थान की ओर इशारा करते है चूकी यहाँ डेसिग्नेशन की बात चल रही मतलव यह खासकर स्थान के रूप में पद की ओर संकेत करता नजर आता है. यह केवल संकेत मात्र है इसे वास्तविकता में कहना अभी के लिए उचित नही होगा.

- नाम इसको यदि समझने की कोशिश करे तब हम इसे इस तरह समझ सकते है कि जैसे कोई कहता है कि वह व्यक्ति उस पद पर है और उसका इतना नाम है इस तरह यहाँ नाम शब्द को परिभाषित किया जा रहा है. चूकी यहाँ इस नाम को उसके पद से ही आँका जा रहा है. अधिकतर हमारे समाज में पद, प्रतिष्ठा को नाम से भी जानते है मतलव नाम बड़ा उसका पद भी उतना ही बड़ा माना जाता है.

- उपाधि इस शब्द को किसी शिक्षा डिग्री या निश्चित क्षेत्र में महारत हासिल करने से जोड़ सकते है जैसे - उदा. के तौर पर हमारे आस पास या पड़ोस में कोई व्यक्ति पढ़ाई में अच्छी शिक्षा या कहे PHD की डिग्री प्राप्त का लेता है तब सभी लोगो या यही कहा जाता है कि उस इंसान ने यह या वह उपाधि प्राप्त की है.

- नियुक्ति अब बात आती है नियुक्ति करना मतलव सरल भाषा में कहे किसी खास पर्सन को खास स्थान या पद के लिए चुना जाना या रिक्वायर्ड करना. यह नियुक्ति कंपनी, फैक्ट्री या उधोगो में भी हो सकती है. डेसिग्नेशन ये सभी मीनिंग प्रतिष्ठा और सम्मान की ओर इशारा करते नजर आते है.

- ओहदा मतलव पॉवर(ताकत) से इसे रिलेटेड कर सकते है. जैसे किसी सरकारी सेक्टर को ध्यान में रखकर जाने तब एक कलेक्टर, नेता या कोई ऐसा व्यक्ति जिसके कुछ ही इशारो पर सिस्टम की बहुत सी चीजो में बदलाब आसानी से हो जाए. इसी तरह यह बड़ी कंपनी में फाउंडर या ceo का पद होता है. 

इसका प्रभाव -

- एक पद का गहरा प्रभाव हमारे समाज, परिवार खुद पर काफी देखने को मिलता है व शर्त यह है की वस ये पद सही दिशा में काम कर रहा हो. यहाँ पद से मेरा मतलव उस स्थान पर जो व्यक्ति अपना काम कर रहा है. वह सही दिशा में होना चाहिए याने जन कल्याण की ओर गति करते हुये आगे बड़ रहा है या नही क्योकि यदि यह पद गलत दिशा में अपनी गति लिए है तब तो इसका परिणाम बहुत बूरा और इसका खामियाजा सभी को भुगतना पड़ेगा जो भी इससे जुड़े है.

-  संकेत एक दिशा निर्देश की ओर इशारा करता नजर आता है चूकी बात पद की हो रही मतलव इस संकेत को इसकी ओर अग्रसर होते मान सकते है. यदि इसके इफ़ेक्ट को देखे तो यह दोनों ही परिस्थिति में सही और गलत प्रकट होने के चांस रहते है अच्छे रिजल्ट के लिए शर्त है की इसे सही देशा दी जाए. 

- नाम से तात्पर्य पद और प्रतिष्ठा, वास्तव में यह पद पर निर्भर दिखाई पड़ता है क्योकि पदवी होने पर नाम खुद व खुद वन ही जाता है. पर नाम का गलत फायदा उठाना रिस्तो, सोसाइटी पर बुरा असर छोड़ सकता है.

- उपाधि मतलव इसका संबंध शिक्षा या भरपूर ज्ञान से करे तब एक उपलब्धि की तरह सामने प्रकट होती है जब एक व्यक्ति अपनी उपाधि प्राप्त करके इसका सही इस्तेमाल करते हुये आगे बड़ता तब तो समाज और उसके परिवार का उद्धार निश्चित ही है. 

- इंसान एक अच्छे पद पर नियुक्त होकर शानदार काम करे तो जान कल्याण के सभी रास्ते खोले जा सकते है. साथ उसके जीवन, परिवार में खुशी की लहर फ़ैल उठती है.

इन शब्दों का उपयोग -

- पदवी का सीधा संबंध राजा, महाराजा, सरकारी क्षेत्र या किसी भी प्रकार के पद के लिए इस पदवी शब्द का इस्तेमाल किया जाता है. यह मान, मर्यादा से जुड़ा होता है.

- संकेत, पद, उपाधि, नाम, नियुक्ति से सीधा जुड़ा होता है या कह सकते है यह इनसब को संकेत करता या दर्शाता है.

- नाम का उपयोग हमारे आस - पास समाज में बहुत मात्रा में किया जाता है. जैसे जब कोई पर्सन जो यहाँ रहने वाला है और उसके द्वारा कुछ सम्मान लिया जाता है या फिर वह किसी विशेष पद पर है तब यही बोला है कि उस आदमी का बहुत नाम है पर नाम का गलत उपयोग करना भारी पड़ सकता है इसलिए सोच समझकर इस्तेमाल होना चाहिए.

- अधिकतर उपाधि का सबसे सरल उपयोग स्टूडेंट के लिए करते है जिसने विशेष क्षेत्र में महारत हासिल की हो. यह उपाधि उसके द्वारा शिक्षा से सम्बंधित किसी भी स्पेशल फील्ड में हो सकती है. जब वह इसको प्राप्त कर लेता है तव उसकी उपाधि की सकल में रूपांतरित होता है.

- किसी पद विशेष पर अपना नाम दर्ज कराना ही नियुक्ति कहलाता है.

मुझे आशा है यह जानकारी Designation Means in Hindi से सम्बंधित और डेसिग्नेशन का हिंदी मीनिंग(मतलव) संक्षेप और विस्तार से समझ ही गए होंगे. इसके साथ आपके कुछ डाउट भी होंगे जैसे Means of Designation in Hindi भी क्लियर हो चुके होंगे. अब जल्दी से हमे बताये यह पोस्ट कैसी लगी. कोई सूझाव के लिए हमे कमेंट करे और साथ ही अधिक शब्दों के मीनिंग के लिए ऊपर सर्च बॉक्स का इस्तेमाल करे.

Post a Comment

0 Comments